KATGHORA: ये क्या..! थाना प्रभारी के खिलाफ शिकायत आवेदन, आखिर क्या हैं पूरा माजरा…?

कोरबा/कटघोरा :- प्रार्थी ने जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय कोरबा में थाना प्रभारी के खिलाफ शिकायत आवेदन देकर कार्यवाही की मांग की है। जिसमे जिक्र है कि बेवजह प्रार्थी को थाना बुलाकर उसके साथ मारपीट व अभद्रता की गई है। अब ऐसे शिकायत आवेदन से समझा जा सकता है, आखिर पुलिस किस मुकाम पर कार्य कर रही है, हालांकि ऐसे शिकायत आवेदन में कितनी सच्चाई हैं यह तो कह पाना मुश्किल है लेकिन थाना प्रभारी के खिलाफ शिकायत देने का साहस अपराधी किश्म के लोग नही कर सकते। खैर प्रार्थी की शिकायत को पुलिस अधीक्षक किस नजरिये से देखते हैं यह बड़ा सवाल है?

बता दे कि कटघोरा के वार्ड क्र. 03 के निवासी मुकेश मिरी पिता फूल सिहं ने कोरबा पुलिस अधीक्षक कार्यालय में 19/05/2022 को थाना कटघोरा प्रभारी नवींन देवांगन के खिलाफ मारपीट करने व जातिगत अभद्रता करने की लिखित शिकायत पेश की है। जिसमे प्रार्थी ने जिक्र किया हैं कि दिनाक 18/05/2022 को मुकेश मिरी अपने घर पे था। तभी थाना कटघोरा का एक सिपाही मिरी के घर आमद दिया और उसे बिना कारण बताए थाना लेकर आ गया। इस दौरान प्रार्थी ने सिपाही से कई दफा थाने लाने का कारण पूछा, लेकिन सिपाही ने कारण बताना लाजमी नही समझा। प्रार्थी अनुसार जब वह थाना पहुँचा तो उसे सिपाही व थाना प्रभारी नवींन देवांगन द्वारा हाथों से व बेल्ट से जमकर पिटाई की गई, बहरहाल इन बातों में कितनी सच्चाई है यह कह पाना मुश्किल है। लेकिन प्रार्थी ने आवेदन में यह भी जिक्र किया हैं कि जब इसके भाई निकेश मिरी को जानकारी हुई तो वह थाना कटघोरा पहुँचा और मुकेश को थाना लाने का कारण जानने लगा, जहां उसकी भी पिटाई कर दी गई। तथा मुकेश व निकेश के खिलाफ धारा 151 का मामला बनाकर आरोपी बना दिया गया।

प्रार्थी मुकेश मिरी गरीब परिवार से ताल्लुक रखता हैं और कटघोरा में सब्जी बेचने का कार्य करता है जिससे उसके परिवार का खर्च चलता है। थाना प्रभारी की इस कार्यवाही से मुकेश का पूरा परिवार डरा सहमा हैं आखिर पुलिस उसे थाना बुलाकर इस तरह का व्यवहार क्यो रहीं हैं? यह समझ से परे है। बहरहाल प्रार्थी ने जिला पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल के समक्ष आवेदन प्रस्तुत कर उचित कार्यवाही करने की मांग कर न्याय की गुहार लगाई हैं।

आवेदन की कॉपी… 
error: Content is protected !!