* 2971 कार्यों का हुआ लोकार्पण-भूमिपूजन.

रायपुर,

राज्य में कोरोना प्रकोप की दूसरी लहर के थमने के साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नवा छत्तीसगढ़ गढ़ने के संकल्प ने फिर से पूरी रफ्तार पकड़ ली है। जनसुविधा के विकास एवं निर्माण कार्याें को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इन दिनों जिलों को खुले मन से करोड़ों रूपए विकास एवं निर्माण कार्याें की सौगात देने लगे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीते तीन दिनों में राज्य के छह जिलों को 1832 करोड़ रूपए की सौगात दे चुके हैं। उन्होंने दुर्ग, बालोद, बलौदाबाजार-भाटापारा, महासमुंद, गरियाबंद और कबीरधाम में जनसुविधा के विकास और निर्माण से कुल 2971 कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया है। मुख्यमंत्री श्री बघेल जिलों में विकास एवं निर्माण कार्याें का लोकार्पण और भूमिपूजन करने के साथ ही शासन की विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की स्थिति की हकीकत जानने के लिए किसानों, ग्रामीणों, महिला स्व-सहायता समूहों और विभिन्न श्रेणी के हितग्राहियों के चर्चा भी कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने 8 जून को दुर्ग और बालोद जिले को 685 करोड़ रूपए की लागत वाले 244 कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया, जिसमें दुर्ग जिले में 285.87 करोड़ की लागत वाले 57 कार्यों और बालोद जिले में 399.32 करोड़ रूपए की लागत वाले 187 विकास एवं निर्माण कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने 9 जून को अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में बलौदाबाजार-भाटापारा और महासमुन्द जिले में लगभग 565 करोड़ रूपए की लागत के 1430 कार्योें का लोकार्पण और भूमिपूजन किया है, जिसमें बलौदाबाजार जिले के लिए 295 करोड़ रूपए की लागत के 1172 कार्याें का और महासमुन्द जिले के लिए 270 करोड़ रूपए की लागत के 258 कार्याें का लोकार्पण और भूमिपूजन शामिल है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 10 जून को गरियाबंद और कबीरधाम जिले में 581 करोड़ 97 लाख रूपए की लागत के 1270 कार्याें का लोकार्पण-भूमिपूजन किया, जिसमें गरियाबंद जिले में 176 करोड़ 94 लाख रूपए के 211 कार्याें का लोकार्पण और 180 करोड़ 29 लाख रूपए के 305 कार्याें का भूमिपूजन और कबीरधाम जिले में 98 करोड़ 73 लाख रूपए के 415 कार्याें का लोकार्पण और 126 करोड़ एक लाख रूपए के 339 कार्याें का भूमिपूजन शामिल है।