06/18/2021

नवपदस्थ कलेक्टर ने ली अधिकारियों की परिचयात्मक बैठक, अधिकारियों के कार्यों से आमजनों की समस्याएं दूर होनी चाहिए, यही सर्वोंच्च प्राथमिकता -कलेक्टर  चन्द्रवाल

1 min read
नवपदस्थ कलेक्टर ने ली अधिकारियों की परिचयात्मक बैठक,
अधिकारियों के कार्यों से आमजनों की समस्याएं दूर होनी चाहिए, यही सर्वोंच्च प्राथमिकता -कलेक्टर  चन्द्रवाल
बलरामपुर ,, अब्दुल रशीद
नवपदस्थ कलेक्टर  इन्द्रजीत सिंह चन्द्रवाल ने पदभार ग्रहण करने के पश्चात् संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में अधिकारियों के साथ परिचयात्मक तथा विभागीय योजनाओं की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने विभिन्न विभागों में संचालित शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं के बारे में पावर प्वांट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से विस्तृत जानकारी ली। कलेक्टर  ने समस्त विभाग प्रमुख से कहा कि कार्यशैली में तत्परता लाये और भविष्य में परिणामों के आधार पर अधिकारियों के कार्यों तथा उनके कुशलता का आकलन किया जायेगा। अधिकारियों के कार्यों से आमजनों की समस्याएं दूर होनी चाहिए, यही सर्वोंच्च प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने प्राप्त लक्ष्य और उसके विपरित प्राप्त परिणामों के आधार पर ही शासन के योजनाओं की समीक्षा की।
बैठक में सर्वप्रथम उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से परिचय प्राप्त कर कोविड-19 के प्रभावी नियंत्रण के लिए की गई व्यवस्था तथा मरीजों के उपचार के लिए तैयार अधोसंरचना के बारे में विस्तारपूर्वक चर्चा की। उन्होंने अंतर्राज्यीय सीमावर्ती क्षेत्रों के अनुविभागीय अधिकारियों को कोविड नियंत्रण के लिए प्रभावी कदम उठाने और बेहतर प्रबंधन के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। सीमावर्ती क्षेत्रों में कार्यरत अमले सही ढंग से अपने दायित्वों कर निर्वहन कर रहे हैं नहीं, इसकी सतत निगरानी करने को कहा। कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह चन्द्रवाल ने अधिकारियों से चर्चा के दौरान किसी भी समस्या के कारणों का पता लगाने पर जोर देने की बात कही ताकि समस्या का समुचित समाधान किया जा सके। सतही स्तर का आकलन न कर अधिकारी तथ्य पूर्ण और विस्तृत जानकारी एकत्रित करें। उन्होंने महिला एवं बाल विकास अधिकारी से मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के अंतर्गत कुपोषण मुक्त हो चुके बच्चों की जानकारी ली तथा जिले को कुपोषण मुक्त बनाने के लिए उनके द्वारा आगामी कार्य योजना पर चर्चा की। बैठक में उन्होंने खाद्य विभाग, कृषि विभाग, आदिवासी विकास विभाग, शिक्षा, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग तथा नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी के अंतर्गत जिले में संचालित गतिविधियों एवं उनकी प्रगति के संबंध में जानकारी ली और कहा कि महत्वाकांक्षी योजनाओं के क्रियान्वयन में समय-सीमा का विशेष ध्यान दें। कलेक्टर ने विभिन्न विभागों में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ वन अधिकार पटट्ाधारी कृषक और बेरोजगार युवाओं को प्राथमिकता से पहुंचाने की बात कही। इसके पश्चात कलेक्टर चन्द्रवाल ने राजस्व अधिकारियों से एक-एक कर बात करते हुए लंबित राजस्व प्रकरणों की जानकारी ली और उनका निराकरण करने को कहा। अतिक्रमण, डायवर्सन, जाति प्रमाण पत्र, नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, लोक सेवा गारंटी के सर्वाधिक मामलों वाले अनुभाग केे एसडीएम को तत्परता के साथ कार्य करते हुए प्रकरणों का निपटारा करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आमजनों को दी जाने वाली सेवाओं के क्रियान्वयन में दिक्कत नहीं आनी चाहिए तथा दिक्कत आने पर एसडीएम और सीईओ जवाबदेही तय की जायेगी।
इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती तुलिका प्रजापति, अपर कलेक्टर एस.एस पैंकरा, सर्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सर्व जिला स्तरीय अधिकारी, सर्व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत उपस्थित थे।
अब्दुल रशीद जिला प्रतिनिधि जिला बलरामपुर
जिला प्रतिनिधि बलरामपुर
error: Content is protected !!